महिलाएँ विटामिन डी की कमी के लक्षण को कैसे पहचाने

शरीर को पूरी तरह स्वस्थ रखने के लिए विटामिन और पोषक तत्वों की बहुत ही ज्यादा आवश्यकता होती है। विटामिन डी की कमी हमारे शरीर को बहुत ज्यादा नुकसान पहुंचाती है। विटामिन डी की भरपूर मात्रा से इम्युनिटी बहुत मजबूत हो जाती है। बहुत सारी महिलाओ में इम्युनिटी पावर इसीलिए कमजोर होता है क्यूंकि उनके शरीर में विटामिन डी की मात्रा बहुत ही ज्यादा कम होती है। आप दूध से बनी चीज़ो का सेवन करे। और धुप में कम से कम २० मिनिट अवश्य टहले या बैठे रहे। आपके शरीर में धुप का भी अपना महत्वपूर्ण रोल है। विटामिन डी धुप लेने से बहुत जल्द हमारे शरीर में प्रभाव डालता है।

अगर शरीर में किसी भी विटामिन की कमी रह जाए तो यह शरीर के लिए अच्छा नहीं रहता है। आप हमेशा वही डाइट प्लान करे जिसमे पोषक तत्व और विटामिन्स भरपूर मात्रा में रहे ।

विटामिन डी की कमी से होने वाली समस्याए जैसे की –

1. कमजोरी महसूस करना –

हमारे शरीर में विटामिन डी की कमी से हमारा शरीर कैल्शियम को सही मात्रा में अवशोषित नहीं कर पाता है। और इसी वजह से हर वक़्त हमें कमजोरी महसूस होती है। इसकी बहुत ही ज्यादा अगर कमी हो तो हड्डिया भी कमजोर हो जाती है।

2. हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द –

जब लगातार हमारी हड्डियों और मांसपेशियों में दर्द बना रहे तो इसे अनदेखा नहीं करना चाहिए। यह विटामिन डी की कमी का लक्षण हो सकता है। विटामिन डी की कमी के कारण हड्डिया बहुत ही ज्यादा कमजोर पड़ जाती है और इनमे लगातार दर्द बना रहता है।

3. हड्डियों का टूटना –

अगर हड्डियाँ कमजोर पड़ जायेंगी तो उनके टूटने की संभावना बढ़ जाती है। ऐसी हालात में अगर आप कहीं गिर जाती हैं तो आपकी हड्डियाँ टूट सकती है। इसलिए विटामिन डी युक्त चीजों का सेवन ज़रूर करें।

4. हर वक़्त बीमार रहना –

विटामिन डी की कमी से आपका इम्यून सिस्टम बहुत कमजोर हो जाता है जिसकी वजह से आप अक्सर बीमार हो जाती हैं। विटामिन डी शरीर में एंटीमाइक्रोबियल यौगिकों की मात्रा बढ़ा देता है जिससे किसी भी तरह के इन्फेक्शन से आपका बचाव होता है। इसलिए रोजाना धूप में ज़रूर टहलें।

5. बालों का झड़ना –

विटामिन डी की कमी होने से बालों को पूरी तरह पोषण नहीं मिल पता है जिस वजह से उनकी जड़ें कमजोर पड़ जाती हैं और बाल जल्दी टूटने लगते हैं। अगर आपके भी बाल तेजी से टूट रहें हैं तो हो सकता है कि आपके शरीर में विटामिन डी की कमी हो गयी हो। इसका पता लगाने के लिए नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करें।

6. डिप्रेशन –

खासतौर पर महिलाओं में विटामिन डी की कमी होने से डिप्रेशन होने की संभावना बढ़ जाती है। यह जान लें कि मस्तिष्क को ठीक से काम करने के लिए शरीर में पर्याप्त मात्रा में विटामिन डी होना बहुत ज़रूरी है। इसलिए जब इसकी कमी होती है तो दिमाग ठीक से काम नहीं करता और डिप्रेशन जैसी मानसिक बीमारियां महिलाओ को घेर लेती है।

 

प्रातिक्रिया दे