अगर आपको भी है छोटी-छोटी बातो पर रोने की आदत ?? तुरंत इस आदत को बदल डाले !

कुछ लोग होते है जो बहुत ही ज्यादा इमोशनल होते है मतलब हम यह कह सकते है अगर सामने वाला कोई भी उनसे तेज आवाज में बात भी कर ले तो वो बहुत जल्दी रोना शुरू कर देते है। यह सिर्फ लड़कियों में ही नहीं बल्कि लड़को में भी देखा जाता है। यह लोग वे होते है जो बहुत जल्दी किसी भी बात से हर्ट हो जाते है। वो हर बात को दिल से सोचते है और वे बहुत ही ज्यादा सेंसिटिव होते है।

मगर हर बात को दिल से सोचना और इतना इमोशनल होना हर बार भी अच्छा नहीं होता है। दुनिया ऐसे लोगो को बेवकूफ समझती है, और ऐसे लोगो का फायदा उठाने में भी कोई कमी नहीं रखती। अगर आप प्रोफेशनल है और किसी कम्पनी में काम करते है या कहीं भी आप जॉब करते है तो आपका बात बात पर रोने की आदत आपके लिए ही खतरनाक संकेत है। तो हम आपकी मदद करने के लिए आपको कुछ टिप्स बताते है।

आज हम बात करेंगे जब बात बात पर रोने की आदत हो तो कैसे आप अपने आप को इस स्थिति से निजात पाए –

  1. अपने आप को मजबूत बनाए-

    आज के इस भीड़भरी दुनिया में किसी को किसी की कोई फ़िक्र नहीं होती। बल्कि लोगो को तो बहुत मजा आता है दूसरो के ऐसे हालत देख कर और ये वही लोग है जो आपकी इस स्थिति का भरपूर फायदा उठाना चाहते है।

  2. सकारात्मक बने-

    हमेशा अपनी सोच को सकारात्मक बनाए रखे यह आपके लिए बहुत ही अच्छा होगा। किसी भी परेशानी को आप अकेले लेकर बैठे न रहे आप अपने किसी खास दोस्त से परेशानी साझा कर सकते है। और नकारात्मक सोच से आप कोसो दूर ही रहे वो ही आपके लिए अच्छा होगा। क्यूंकि ऐसी सोच आपके लिए बहुत ही ज्यादा मुश्किल खड़ी कर देगी।

  3. अपनी पसंद का म्यूजिक सुने-

    आप अपनी पसंद का कोई भी म्यूजिक सुने। अगर हो तो रोने वाले गाने को छोड़कर कोई भी आपको खूब एनर्जी दे ऐसा कोई संगीत सुने। इससे आपको काफी अच्छा लगेगा और आप में आत्मविश्वास भी खूब बढ़ेगा।

  4. दोस्तों के साथ घूम आए-

    आप अगर काफी स्ट्रेस में है तो आप जरूर घूम आए। अपने आप को और अपने दोस्तों को देखे की वो कभी किसी बात की चिंता नहीं करते और आप बात बात पर रोते है। आपको आपके दोस्तों से खूब सीखना चाहिए।

  5. खूब देर तक सोए-

    अगर आप पर कोई उपाय काम नहीं कर रहा है तो बेहतर है कि आप सो जाएं। सोने से आप खुद को हर दुख-दर्द से कटा हुआ महसूस करेंगी। यह आपके स्वास्थ्य के लिए भी बेहतर होगा। क्योंकि सोने से आप बुरी चीजें सोचेंगी नहीं और आपका मन भी बार-बार कुछ भी गलत नहीं महसूस करेगा। अतः संभव हो तो दुखी होने पर ज्यादा से ज्यादा सोएं।

  6. वक़्त और हालत हमेशा एक जैसे नहीं होते-

    जी हाँ वक़्त और हालात हमेशा एक जैसे नहीं होते इससे मेरा मतलब यह है की अगर आपके साथ कुछ गलत हुआ है तो आपको उसे मानना ही पड़ेगा क्यूंकि उस एक चीज को लेकर हम अपनी बाकि की जिंदगी को लेकर नहीं बैठ सकते। क्यूंकि जो आपकी जिंदगी में होना है वो तो होकर ही रहता है इसीलिए कभी भी इस बात से दुखी न हो बल्कि उस मुश्किल से कैसे उभरे यह सोचे। अगर आपके हालात अभी बुरे तो वो हमेशा बुरे नहीं रहेंगे अच्छे भी आएँगे मगर आपको बैठे नहीं रहना है उस बुरे वक़्त से आत्मविश्वास के साथ लड़े।

क्यों हम अपना वक़्त रोने में व्यर्थ करे वो भी उन लोगो के जिनको हमारे रोने से कभी कोई फर्क नहीं पड़ेगा। तो आप हमेशा खुश रहे और हमेशा सकारात्मक सोच के साथ आप अपनी जिंदगी को खूब मजे से जिए। क्यूंकि जिंदगी हमें एक ही बार मिली है और कल के भरोसे न रह कर आज ही को जी लीजिये।

अगर आपको मेरी ये पोस्ट अच्छी लगे तो आप कमेंट करके बताए और इस पोस्ट को शेयर करना न भूले।

प्रातिक्रिया दे