बरसात में पैरों का रखे खास ख्याल।

बरसात का मौसम हमें जितना हमें सुकून देता है मगर उतनी ही परेशानिया भी साथ लेकर आता है। इस मौसम में काफी त्वचा सम्बन्धी तकलीफ हमें हो जाती है और उनमे से पैरों में संक्रमण होना एक आम समस्या है। बरसात में भीगने से पैरों की उंगलियों में फंगल इन्फेक्शन होने का खतरा बना रहता है। जब हम बरसात में सड़क पर चलते है जिससे हमारे तलवे की चमड़ी बहुत जल्द ख़राब होती है। बरसात में आप अपने पैरों को अच्छे से धोए और बहुत ही अच्छे से सुखाए भी और सूखने के बाद थोड़ा पाउडर अवश्य छिड़के। इस मौसम में गीले मोज़े बिलकुल भी न पहने और कोशिश करे उनको पहनने से पहले रोज धो ले।

इस मौसम में अपने पैरों का ख्याल रखने के लिए ध्यान रखना बहुत जरूरी हैं। बरसात में पैरों को थोड़ा सा समय देंगे, तो आपके पैर खूबसूरत बने रहेंगे।

इस मौसम में भीगने के कारण आपके पैरों की उंगलियों में फंगस इन्फेक्शन भी हो सकता है।बारिश में जगह-जगह पानी जमा हो जाता है और कई बार चाहे-अनचाहे आपको उसमें पैदल चलना पड़ता है। ऐसे में आपके पैरों में पत्थर या अन्य किसी नुकीली चीज से चोट लगने की संभावना बनी रहती है। बारिश के दिनों में कीड़े भी बाहर निकल आते हैं, जिनकी वजह से आपके पैरों में संक्रमण हो सकता है।

बरसात में पैरों का इस तरह रखे ख्याल –

  1. बरसात में अपने पैरों की सफाई का खास ख्याल रखें। पैरों को साबुन और पानी से अच्छे से धोएं ।
  2. पैरों को धोने के बाद तौलिए से अच्छे से सुखाकर उन पर पॉउडर छिड़कें और उसके बाद ही जूते या चप्पल पहनें।
  3. पैरों को हमेशा सूखा रखें।
  4. बारिश के समय नंगे पांव बिल्कुल ना चलें। इससे पैरों में किसी भी तरह का घाव नहीं होगा। साथ ही वायरस व बैक्टीरिया से भी बचाव होगा।
  5. बरसात में अपने मोजों को रोजाना बदले। जहां तक हो सके, सूती मोजे ही पहने। गीले मोजों को बदलने में देरी ना करें।
  6. बरसात के मौसम में अगर पैर में चोट लग जाए, तो डॉक्टरी सलाह लेने में बिलकुल भी कंजूसी न करे । अगर आपके पैर में पहले से भी कोई जख्म है तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं।
  7. ऐसे मौसम में खुले जूते पहनें या ऐसी चप्पलें पहनें जो आसानी से सूख जायें।

घर पर कैसे करे पेडीक्योर ??

पैडीक्योर करने के लिए सबसे पहले पानी को हल्का गरम कर लें। इसमें आधा ब्लीच एक्टीवीटर, निम्बू , नारियल तेल की ५ बुँदे, और नमक अच्छे से मिलाएं। इसे अच्छी तरह मिलाकर 5 से 6 मिनट तक इसमें पैरों को डूबा कर रखें। इसके बाद पैरों को अच्छी तरह पोछ लें। पैर पर स्क्रब लगा कर 5 मिनट के लिए छोड़ दें। नाखून में अच्छी तरह कोल्ड क्रीम लगाएँ और क्यूटीकल ब्रश की सहायता से साफ करें। इसके बाद नाखून काट कर फाइल कर लें। अब पैरों से स्क्रब को अच्छी तरह रगड़ कर साफ करें। अब पैरों पर कोई भी कोल्ड क्रीम लगाकर 3 से 5 मिनट मालिश करें। आपको काफी राहत मिलेगी।

इन्हे पढ़ने के लिए यहां क्लिक करे: पानी को शुद्ध कैसे करे?  और मानसून में फंगल इन्फेक्शन से बचने के उपाय

 

प्रातिक्रिया दे