Alone

जितना ज्यादा बैठे रहोगे उतना जल्दी बुढ़ापे को पाओगे…

हम एक दिन में न जाने कितने घंटे बैठे रहते है मगर यह हमारे स्वास्थय के लिए बहुत ही ज्यादा हानिकारक है। हम एक ही जगह जितने ज्यादा घंटे बैठे रहते है उतनी ही जल्दी बुढ़ापे को नजदीक पाते है। हम एक ही जगह बैठे रहने से अपने शरीर को जाम कर लेते है। हमें कोई न कोई गतिविधि दिन भर में करते रहना चाहिए। हमें अपने स्वास्थय पर बहुत ध्यान देना चाहिए।

हाल ही में एक रिसर्च में यह खुलासा हुआ है की जो जितना ज्यादा अपने शरीर को मूव करता है वो उतना ही स्वास्थ्यवर्धक जीवन जीता है। कैंसर, डाइबिटीज़ , ह्रदय सम्बन्धी बीमारिया, मोटापा इन सब बीमारियों का रिश्ता हमारे लम्बे समय से बैठे रहने से है। जो महिलाऐं बहुत ज्यादा बैठी रहती है ज्यादा अपने शरीर को मूव नहीं करती वो बहुत जल्दी बीमारियों का शिकार होती है और जो महिलाऐं हिलती डुलती रहती है काम करती है वो ज्यादा स्वस्थ रहती है। अतः लम्बा जीना है तो उठे , चले और काम करे।

लगातार बैठे रहने से पीठ में दर्द शुरू हो जाता है। दफ्तरों में कई घंटो तक एक एक ही जगह पर बैठे रहने और काम करने से कई गंभी बीमारियों की चपेट में आ जाते है। कोशिश करे की थोड़ा टहले थोड़े हाथ पैर को आराम दे उन्हें चलने का मौका दे। दरअसल लम्बे समय से बैठे रहने से हमारी मांसपेशिया क्रियाशील नहीं होती और इसी की वजह से हमारे दिमाग को ताजा खून और ऑक्सीजन नहीं मिल पाती।

लगातार बैठे रहने से हमारा रक्तचाप उच्च होता है और ख़राब कोलेस्ट्रॉल में वृद्धि होती है। कई गंभीर बीमारियों की चपेट में अगर नहीं आना चाहते तो उठे , टहले और काम करे।

महिलाए भी ज्यादा समय न तो सोई रहे सोने के बजाय व्यायाम करे स्वस्थ रहे। जितना ज्यादा आप आज अपने शरीर पर ध्यान देंगे उतना ही ज्यादा आपसे आपका बुढ़ापा दूर रहेगा और बीमारिया भी कोसो दूर रहेगी।

प्रातिक्रिया दे