Exercise

सूर्य नमस्कार (Surya Namaskar) – International Yoga Day

आप सभी को इस अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस पर बहुत बहुत शुभकामनाए। आज अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस है ,अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का मतलब हमारे स्वास्थ्य का दिन। आज की इस भागदौड़ भरी जिंदगी में एक योग ही ऐसा माध्यम है जिसके द्वारा हम तनावरहित और फिट रह सकते है।सूर्य नमस्कार सबसे प्रभावी आसन है। सूर्य नमस्कार सभी आसनो से अलग एक आसन है जो बहुत ही जल्दी हमारे शरीर को चुस्त और फुर्तीला बनाता है। हमें सुबह उठ कर या जब भी समय मिले तब योग जरूर करना चाहिये। योग हमारे शरीर को स्फूर्ति प्रदान करता है योग द्वारा कोई भी बीमार व्यक्ति बहुत ही जल्द स्वस्थ हो जाता है।

उम्र के एक पड़ाव के बाद शरीर के अंग उतनी मजबूती से काम नहीं करते है। शरीर को सुचारु रूप से चलने के लिए व्यायाम की आवश्यकता होती है ताकि इसके जरिये शरीर में आए दिन होने वाले दर्द से राहत मिल सके।
योग हमें उन चीज़ो को ठीक करना सिखाता है जिसे सहा नहीं जा सकता है और उन चीज़ो को सहना सिखाता है जिन्हे ठीक नहीं किया जा सकता ।

योग के महत्वपूर्ण लाभ –

  1. योग करने से हम बहुत जल्दी बूढ़े नहीं होते।
  2. योग के माध्यम से हम बहुत स्वस्थ रह सकते है कोई भी बीमारी से हम आसानी से बच जाते है.
  3. योग हर उम्र के व्यक्ति को करना चाहिए और तो और योग हमें अपने छोटे बच्चो को भी बचपन से आदतन करवा देना चाहिए ताकि वो उनके जवानी या बुढ़ापे में भी स्वस्थ रहे।
  4. एक सामान्य मनुष्य को कम से कम ४५ मिनिट योग क लिए जरूर निकालना चाहिए।
  5. योग हर मर्ज़ का बेहतरीन इलाज है.
  6. महिलाओ को भी योग करना बहुत ही जरूरी है इससे उनके शरीर में हर वक़्त ऊर्जा रहेगी।
  7. चेहरे पर ग्लो आता है योग करने से।
  8. योग करते वक़्त सारे विषैले पदार्थ पसीने के रूप में बहार निकल जाते है।

आसन के प्रकार एवं उनके लाभ –

  1. तितली आसन: घुटने एवं जांघो के जोड़ मजबूत होंगे , गर्भवती महिला भी इस आसन को योग्य प्रशिक्षक की निगरानी में इसे कर सकती है
  2. सुप्त वज्रासन: कब्ज दूर करता है , चेहरे पर निखार लाता है , रीढ़ की हड्डी मजबूत करता है।
  3. शशांकासन: रक्त संचार प्रणाली ठीक करता है, मेरुदंड में दर्द दूर करता है , मन को शांत करता है।
  4. नौकासन: सम्पूर्ण शरीर को आराम देता है, कमर के लिए बहुत ही लाभदायक है।
  5. ताड़ासन: पेट नाभियो के निचे खिचाव लाएगा।
  6. पवनमुक्तासन: शरीर के समस्त जोड़ो से वायु बाहर करेगा।
  7. तिर्यक ताड़ासन: कमर के भीतरी भागो की मालिश करेगा।
  8. कटी चक्रासन: कमर लचीली कर उसकी चर्बी को कम करेगा।
  9. प्राणायाम: शरीर में कोशिकाओं को नया जीवन प्रदान करेगा।
  10. धनुरासन: भोजननली की कार्यक्षमता में सुधर करेगा।
  11. पश्चिमोत्तासन: लिवर किडनी के निचले भागो को पुष्ट करेगा।
  12. चक्रासन: सभी हार्मोन्स के स्त्राव को संतुलित करेगा।

सूर्य नमस्कार :

सूर्य नमस्कार जो सूर्य देवता को अर्पण किया जाने वाला एक व्यायाम है। यह व्यायाम १२ स्टेप्स में पूरा होता है। सूर्य नमस्कार सबसे प्रभावी आसन है। सूर्य नमस्कार सभी आसनो से अलग एक आसान है जो बहुत ही जल्दी हमारे शरीर को चुस्त और फुर्तीला बनाता है। सूर्य नमस्कार की जो स्टेप्स होती है वो थोड़ी कठिन होती है और शुरुवात में करते हुए परेशानी भी आती है। मगर कुछ ही दिनों में ये आपके रोजाना की आदत में आने के बाद कभी कोई कठिनाई नहीं होती। हमेशा के लिए शरीर स्वस्थ हो जाता है।

सूर्य नमस्कार की स्टेप्स :

  1. प्रणामासन: यह आसान हमारी एकाग्रता बढ़ाता है एवं शरीर का संतुलन बनाए रखेगा।
  2. हस्तउत्तानसन: पाचन ठीक रखता है एवं फेफड़े मजबूत करता है।
  3. पादहस्तासन: इस आसान के द्वारा हम अपना पेट कम कर सकते है और मेरुदंड लचीला बनता है।
  4. अश्वसंचालनासन: पैर मजबूत करने क लिए यह आसन सबसे उपयुक्त माना गया है और इस आसन के द्वारा हम अपना न्यूरोलॉजिक्ल बैलेंस भी ठीक रख सकते है।
  5. पर्वतासन: इस आसान के द्वारा हम अपनी भुजाए मेरुदंड एवं कंधे ठीक रख सकते है।
  6. अष्टांगनमस्कार: इस आसान को करने के लिए हमें अपने शरीर को जमींन पर पूरा झुकाना होता है इसके माध्यम से सीना होगा विकसित।
  7. भुजंगासन: इसके द्वारा हमारी पीठ में ब्लड सर्कुलेशन बहुत ही अच्छे तरीके से होने लगता है , व् कब्ज की भी समस्या बहुत जल्दी दूर हो जाती है।
  8. पर्वतासन: स्टेप 5 को दोहराएं।
  9. अश्वसंचालनासन: स्टेप 4 को दोहराएं।
  10. पादहस्तासन: स्टेप 3 को दोहराएं।
  11. हस्तउत्तानसन: स्टेप 2 को दोहराएं।
  12. प्रणामासन: स्टेप 1 को दोहराएं।

आप भी योग करे और दुसरो को भी करने की सलाह दे। अगर आपको ये पोस्ट पसंद आये तो हमे कमेंट करे और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर शेयर करे.

One Comments

  • Subodh Sharma जून 22, 2017 Reply

    Nice post to learn surya namaskar and importance of Yoga. Thank you 🙂 (y)

प्रातिक्रिया दे